बिहार: बच्चों का मुंडन कराने खगड़िया से देवघर जा रही बस पलटने से 29 घायल; 13 को अस्पताल रेफर किया गया

बिहार के अमरपुर बांका पथ पर मंझगांय मोड़ के समीप गुरुवार को दोपहर बाद खगड़िया से देवघर जा रही एक बस के पलट जाने से उस पर सवार 29 लोग जख्मी हो गए। इनमें से 13 लोगों को बेहतर इलाज के लिए भागलपुर रेफर कर दिया गया। 

प्राप्त जानकारी के अनुसार, खगड़िया जिले के बभनगामा गांव के एक ही परिवार के सदस्य अपने रिश्तेदार जलकोरा गांव के लोगों के साथ बच्चों का मुंडन कराने देवघर जा रहे थे। गाड़ी में कुल चालीस लोग सवार थे। अमरपुर से बांका की ओर जाने के क्रम में मंझगांय मोड़ के समीप गाड़ी का टायर फट गया तथा बस अनियंत्रित हो गई एवं सड़क किनारे पेड़ से टकरा कर पलट गई। गाड़ी के पलटते ही उसमें सवार लोगों में अफरातफरी मच गई। 

बस पलटने की सूचना मिलते ही स्थानीय लोग वहां पंहुचे तथा बस के अंदर फंसे लोगों को बाहर निकालने का काम किया। खैरा के पंकज सिंह, मालदेवचक के बबलू सिंह, छतहरा के पंकज कुमार, विकास कुमार विक्की आदि ने घायलों को बस से निकाला। घटना की जानकारी मिलते ही थानाध्यक्ष अरविंद कुमार सिंह के अलावा रामाश्रय प्रसाद, राजेश सिंह, राजीव रंजन आदि पुलिस अधिकारी भी वहां पंहुचे। अमरपुर रेफरल अस्पताल से एंबुलेंस नहीं भेजे जाने पर बांका से एंबुलेंस भेजा गया। 

इस बीच स्थानीय लोगों ने ऑटो से घायलों को अस्पताल भेजना शुरू किया। बाद में एंबुलेंस आने पर दो एंबुलेंस से घायलों को रेफरल अस्पताल भेजा गया। जहां डॉ नवल किशोर साह एवं डॉ पंकज कुमार ने सभी घायलों का उपचार किया तथा 13 घायलों को बेहतर इलाज के लिए भागलपुर रेफर कर दिया। पुलिस ने बस को जब्त कर थाना लाया। अमरपुर अस्पताल से रेफर किए गए घायलों में बभनगामा के राजीव सदा, विभा कुमारी, भोला देवी, कंचन सदा, ललटून सदा, गायत्री देवी, शारदा देवी, मीना देवी, जलकौरा गांव के अमल देवी, संजीत राम, सुंदर सदा एवं राधा देवी तथा बलहा गांव के बीबीसी कुमार शामिल हैं।

बिहार :कोरोना नियंत्रण को लेकर जांच व सतर्कता बढ़ाने का निर्देश; 3 जिलों में कांट्रैक्ट ट्रेसिंग शुरू होगी