बिहार: अब तक 6 लाख लोगों ने लगवाया कोरोना का टीका, स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने बताया

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि राज्य में अब तक छह लाख लोगों ने कोरोना का टीका लिया है। इससे सभी शंकाएं निर्मूल साबित हो गई हैं। अगर कोई शंका होती तो दूसरे देशों से भारत के टीके की मांग नहीं होती। जिन लोगों ने टीका लिया है वे सभी स्वस्थ्य हैं। टीकारण के लिए सभी निर्देशों का पालन किया जा रहा है। राजनीतिक मंशा से सदन में सवाल नहीं उठाना चाहिए। मंगल पांडेय शुक्रवार को विधान परिषद में प्रेमचन्द मिश्रा के ध्यानाकर्षण सूचना पर सरकार की ओर वक्तव्य दे रहे थे। उन्होंने टीकाकरण अभियान में कंपनियों द्वारा एडवाजरी में लापरवाही बरतने का आरोप लगाया था।

मंत्री ने कहा कि टीकाकरण में लगे कर्मियों को पूरी ट्रेनिंग दी गई है। किन लोगों को टीका नहीं देना है इस बात से उन्हें अवगत कराया गया है। टीका देने के बाद 30 मिनट तक केन्द्र पर ही रखकर लाभुक की देखरेख की जाती है। पहले चरण में 85 प्रतिशत हेल्थ कर्मियों ने टीका लिया। यह देश में सबसे अधिक है। इसके बाद दूसरे चरण में 47 प्रतिशत फ्रंट लाइन वर्करों ने टीका लिया। तीसरे चरण में 60 वर्ष या उससे अधिक उम्र वाले नागरिकों को टीका देने की तैयारी चल रही है। इसके लिए ट्रेनिंग का आयोजन किया जाना है। इस चरण में 45 आयुवर्ग के ऐसे लोगों को भी टीका लगाया जाएगा जो सह रुग्णता (मधुमेह, उच्च रक्तचाप, हृदय और श्वसन संबंधी बीमारियों सहित) से ग्रसित हैं।

विधान परिषद सदस्यों को परिसर में ही टीका लगेगा
मंत्री ने कहा कि विधान परिषद के सदस्य जो इस चरण के तय मापदंड में आते हैं उनका टीकाकरण परिषद परिसर में ही कराने की व्यवस्था होगी। उन्होंने कार्यकारी सभापति अवधेश नारायण सिंह से एक कमरे की व्यवसथा करने का आग्रह किया। सभापति ने कहा कि इसकी व्यवस्था आज ही कर दी जाएगी। मंत्री ने कहा कि विधानसभा सदस्यों के लिए भी ऐसी ही व्यवस्था होगी।

Bihar: Schools from classes 1st to 5th to reopen in Bihar from March 1; Guidelines issued