बिहार: पुलिस के 51% अफसरों और जवानों को लग चुका कोरोना टीका

कोरोना से बचाव के लिए स्वास्थ्यकर्मियों के बाद फ्रंटलाइन वर्कर्स का टीकाकरण किया जा रहा है। पुलिस भी इसमें शामिल है। बिहार पुलिस के अधिकारियों और जवानों के टीकाकरण के लिए 11-12 फरवरी को दो दिनों का विशेष अभियान चलाया गया। इसके बाद भी टीकाकरण जारी है। अबतक 51.2 प्रतिशत पुलिसकर्मियों ने कोरोना से बचाव के लिए टीके का पहला डोज लिया है।

बिहार में पुलिसकर्मियों की संख्या 85 हजार से अधिक है। टीका के लिए 85318 का पंजीकरण हुआ है। सूत्रों के मुताबिक इनमें से 43648 पुलिस अफसरों और जवानों ने टीके का पहला डोज लिया है। यानी 51.2 प्रतिशत पुलिसवालों ने टीका लिया है। सूत्रों के मुताबिक स्वास्थ्य विभाग और पुलिस दोनों ही इस संख्या को बढ़ाने के लिए प्रयासरत हैं। कोशिश है कि ज्यादा से ज्यादा पुलिसकर्मियों को टीके का डोज लगे।

कोरोना का टीका लगाने के मामले में कई जिला पुलिस की स्थिति बेहतर है। वहीं कुछ जिले ऐसे भी हैं जहां बहुत कम संख्या में पुलिसर्मियों ने टीका लगवाया है। बांका जिले से 904 पुलिसकर्मी पोर्टल पर पंजीकृत हुए हैं। इनमें 750 ने टीके का पहला डोज ले लिया है। वहीं पश्चिम चंपारण जिले से 2652 पुलिसकर्मियों की जगह मात्र 571 ने ही टीका लिया। पटना जिले में 18707 के मुकाबले 6628 पुलिसवालों ने ही टीका लगवाया। राज्य के 38 जिलों में 13 जिले ऐसे हैं जहां 50 प्रतिशत से कम पुलिसकर्मियों को टीका लगा है। हालांकि 8 जिले ऐसे भी हैं जहां 70 प्रतिशत से ज्यादा पुलिसकर्मी टीका लगवा चुके हैं।

बिहार: मुख्यमंत्री नीतीश ने कहा – “शराबबंदी हम लोगों का स्वार्थ नहीं, लोगों की इच्छा”